26 January Republic Day Speech in Hindi

आदरणीय मुख्य अतिथि, माननीय शिक्षकगण, और मेरे प्यारे साथियों,

आप सभी को 74वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं! आज का दिन हमारे इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में लिखा है, क्योंकि 26 जनवरी 1950 को हमारे देश को संविधान मिला और हम एक पूर्ण गणतंत्र राष्ट्र बने। इस दिन हम उन महान स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करते हैं जिन्होंने अथक संघर्ष से हमें यह अनमोल स्वतंत्रता दिलाई।

हमारा संविधान हमें समानता, स्वतंत्रता, भाईचारा और न्याय का वचन देता है। यह आधारशिला है जिस पर हमारा लोकतंत्र खड़ा है। यह वह दस्तावेज है जो हमें एकजुट करता है, भले ही हमारी जाति, धर्म, भाषा या पृष्ठभूमि कुछ भी हो।

लेकिन यह केवल कागज का एक टुकड़ा नहीं है। यह एक जीवित दस्तावेज है, जिसे हमें अपने दैनिक जीवन में जीनै चाहिए। हमें लोकतंत्र के मूल्यों का सम्मान करना चाहिए, मतदान के अपने अधिकार का उपयोग करना चाहिए, और अपनी आवाज उठानी चाहिए। हमें भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ना चाहिए और सामाजिक अन्याय के खिलाफ खड़ा होना चाहिए।

Read Also:

Best Speech on Independence Day

हमें यह स्वीकार करना चाहिए कि हमारी यात्रा अभी पूरी नहीं हुई है। चुनौतियां अभी भी बनी हुई हैं। गरीबी, भ्रष्टाचार, सामाजिक अन्याय ये कुछ ऐसी समस्याएं हैं जिनसे हमें अभी भी निपटना है। लेकिन हमें हार नहीं माननी चाहिए। हमें अपने पूर्वजों के संघर्ष को याद रखना चाहिए और उसी साहस और दृढ़ता के साथ आगे बढ़ना चाहिए।

आज के युवाओं के रूप में, हमारे पास इस देश को बदलने की शक्ति है। हम नवाचारक हो सकते हैं, समस्याओं का समाधान ढूंढ सकते हैं, और एक बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकते हैं। हमें शिक्षा का लाभ उठाना चाहिए, कौशल विकसित करना चाहिए, और अपनी क्षमता का एहसास करना चाहिए।

आइए सब मिलकर संकल्प लें कि हम अपने देश को और अधिक गौरवशाली बनाएंगे। आइए मिलकर भारत को एक ऐसा राष्ट्र बनाएं जहां सभी को समान अवसर मिले, जहां न्याय हो, जहां प्रगति हो, और जहां हर सपना पूरा हो सके।

जय हिंद! जय भारत!

Leave a Comment